पेटीएम समेत पांच कंपनियों के शेयरों में सूचीबद्ध होने के बाद से बड़ी गिरावट आई है। इससे निवेशकों को 18 अरब डॉलर (करीब 1.5 लाख करोड़ रुपये) की चपत लगी है।