बीते कुछ साल में ओटीटी प्लेटफॉर्म्स ने देश दुनिया में अपनी पकड़ मजबूत कर ली है। कोरोना काल में एक विकल्प के तौर पर सामने आए इन ओटीटी प्लेटफार्म्स की लोकप्रियता अब थिएटर और टेलीविजन के मुकाबले काफी बढ़ चुकी हैं।