अंतरराष्ट्रीय परमाणु ऊर्जा एजेंसी (आईएईए) का कारवां जपोरिझिया की ओर रवाना हो गया है। रात में रूस नियंत्रित इलाके में रुकने के बाद वह बृहस्पतिवार सुबह यूरोप के सबसे बड़े परमाणु ऊर्जा संयंत्र में जाकर रेडियेशन के खतरे का आंकलन करेगा।