सभी छोटे-बड़े बस ऑपरेटरों को टाईम टेबल में तर्कसंगत समय देने के निर्देश

कहा, टाईम टेबल में किसी भी तरह का भेदभाव बर्दाश्त नहीं किया जाएगा

चंडीगढ़, 29 मार्च:-पंजाब के परिवहन मंत्री स. लालजीत सिंह भुल्लर ने आज रीजनल ट्रांसपोर्ट अथॉरिटीज़ (आर.टी.ए.) के सभी सचिवों के साथ आपातकालीन बैठक करते हुए राज्य में अवैध रूप से चल रही बसों को रोकने सम्बन्धी चैकिंग अभियान शुरु करने की हिदायत दी। उन्होंने कहा कि जहाँ डिफॉल्टर और अवैध रूप से चलने वाली बसों के विरुद्ध नियमों के अनुसार सख़्त कार्रवाई की जाए, वहीं सभी छोटे-बड़े बस ऑपरेटरों को टाईम टेबल में तर्कसंगत एवं उपयुक्त समय दिया जाए और टाईम टेबल में किसी के साथ किसी भी तरह का भेदभाव ना किया जाए।

राज्य परिवहन आयुक्त के कार्यालय में बैठक के दौरान परिवहन मंत्री स. लालजीत सिंह भुल्लर ने समूह सचिवों को हिदायत की कि बसों के अवैध ऑपरेशन को रोकने सम्बन्धी सचिव आर.टी.ए., पंजाब रोडवेज़ के अधिकारियों के साथ तालमेल कर चैकिंग अभियान शुरु करेंगे। उन्होंने कहा कि पंजाब रोडवेज़ के अधिकारी यह भी सुनिश्चित बनाएंगे कि बस अड्डे से कोई भी अवैध बस नहीं चलेगी। अगर कोई ऐसी बस चलती पाई जाती है तो उसके बारे में तुरंत सम्बन्धित आर.टी.ए. को सूचित किया जाए।

बस अड्डों से बाहर अवैध रूप से चल रहीं कॉन्ट्रैक्ट कैरिज बसों और दूसरी बसों के विरुद्ध कार्रवाई सुनिश्चित बनाने के सख़्त आदेश देते हुए स. भुल्लर ने कहा कि इसके अलावा नियमों का उल्लंघन कर रही स्कूल की बसों के ऑपरेटरों के विरुद्ध नियमों के अनुसार कार्रवाई की जाए और सुरक्षित स्कूल वाहन योजना में दर्शाए गए उपबंधों को हू-ब-हू लागू किया जाए।

टाईम टेबल में सबको उपयुक्त समय देने की बात करते हुए परिवहन मंत्री ने निर्देश दिए कि ‘‘भले ही कोई बड़ा बस ऑपरेटर हो या छोटा, सभी को टाईम टेबल में तर्कसंगत एवं उपयुक्त समय दिया जाए।’’ उन्होंने कहा कि टाईम टेबल लागू करते समय किसी भी किस्म का भेदभाव बर्दाश्त नहीं किया जाएगा। परिवहन मंत्री ने अधिकारियों को कहा कि विभाग को सुचारू ढंग से चलाने और जनता के हितों के लिए मेहनत और लगन से काम किया जाए। उन्होंने कहा कि अधिकारी आपस में तालमेल रखें और दफ़्तरी समय के दौरान दफ़्तर में उपस्थित रहकर जनता के कार्यों को समय पर निपटाना सुनिश्चित बनाएं. 

बैठक के दौरान प्रमुख सचिव परिवहन श्री के. सिवा प्रसाद, राज्य परिवहन आयुक्त श्री विमल कुमार सेतिया, अतिरिक्त राज्य परिवहन आयुक्त श्री अमरबीर सिंह सिद्धू, निदेशक राज्य परिवहन श्रीमती अमनदीप कौर और प्रबंध निदेशक पी.आर.टी.सी. पटियाला पवनदीप कौर सहित समूह सचिव, रीजनल ट्रांसपोर्ट अथॉरिटी एवं पंजाब रोडवेज़ के अधिकारी उपस्थित थे।