माँगों को अंतिम रूप देने के लिए 28 नवंबर को बोर्ड के सदस्यों के साथ करेंगे बैठक

चण्डीगढ़, 15 नवंबर:-पंजाब के मुख्यमंत्री चरणजीत सिंह चन्नी ने आज पंजाब ब्राह्मण कल्याण बोर्ड को उनकी सभी जायज़ माँगों का तत्काल समाधान करने का आश्वासन दिया।

बोर्ड के चेयरमैन एडवोकेट शेखर शुक्ला के नेतृत्व अधीन 60 सदस्यीय प्रतिनिधिमंडल ने आज शाम पंजाब भवन में मुख्यमंत्री चन्नी के साथ मुलाकात की और उनका अभिनंदन किया।

इस मौके पर मुख्यमंत्री चन्नी ने उनकी माँगों को अंतिम रूप देने के लिए 28 नवंबर को पंजाब ब्राह्मण कल्याण बोर्ड की बैठक बुलाने का ऐलान किया। मुख्यमंत्री चन्नी ने कहा कि पंजाब सरकार पंजाबी यूनिवर्सिटी, पटियाला में पहले से ही स्थापित भगवान परशुराम चेयर के लिए आवश्यक फंड मुहैया करवाएगी, जिससे उनके जीवन और दर्शन संबंधी व्यापक शोध किया जा सके, जिससे मानव जाति के बीच प्रेम, भाईचारे और करूणा के संदेश को संसार के कोने-कोने तक पहुँचाया जा सके। मुख्यमंत्री ने उनकी अन्य माँगों पर भी सहानुभूतिपूर्वक विचार करने का वादा किया, जिनमें गरीब परिवारों को शिक्षा के लिए वित्तीय सहायता देने के अलावा बोर्ड को फंड मुहैया करवाना शामिल है। मुख्यमंत्री ने बोर्ड के चेयरमैन को लोक निर्माण विभाग द्वारा शुरू किए जाने वाले खाटी धाम प्रोजैक्ट के समग्र विकास के लिए एक सप्ताह के अंदर-अंदर एक व्यापक योजना तैयार करने के लिए भी कहा।

इस दौरान चेयरमैन ने फगवाड़ा-होशियारपुर रोड पर स्थित भगवान परशुराम जी तप स्थली (खाटी  धाम) के विकास के लिए मुख्यमंत्री चन्नी द्वारा 10 करोड़ रुपए देने के लिए उनका धन्यवाद भी किया।

इस मौके पर अन्यों के अलावा खाद्य एवं नागरिक आपूर्ति मंत्री भारत भूषण आशु, लुधियाना उत्तरी के विधायक राकेश पांडे के अलावा बोर्ड के वाइस चेयरमैन अजय शर्मा और रवीश शर्मा, रवि पंडित, हरि देव अग्निहोत्री, सुनील दत्त और कृष्ण कुमार आदि उपस्थित थे।