राधास्वामी सत्संग ब्यास ने ज़मीन दान की और लोगों की सुविधा के लिए अत्याधुनिक कम्पलेक्स का निर्माण किया

पंजाब के सर्वपक्षीय विकास में धार्मिक संस्थाओं का योगदान प्रशंसनीय: मुख्यमंत्री चन्नी

डीजीपी की नियुक्ति पैनल के अनुसार होगी

ब्यास, 20 नवंबर:-नये बने सब-तहसील ब्यास के कम्पलेक्स की अत्याधुनिक इमारत का लोकार्पण करते हुए पंजाब के मुख्यमंत्री श्री चरणजीत सिंह चन्नी ने कहा कि राज्य के सर्वपक्षीय विकास में धार्मिक संस्थाओं की भूमिका हमेशा ही प्रशंसनीय रही है। आधुनिक बुनियादी ढांचा तैयार करने के लिए राधास्वामी सत्संग ब्यास का धन्यवाद करते हुए मुख्यमंत्री श्री चन्नी ने कहा कि अब ब्यास में इस सुविधा का सीधा लाभ लगभग 30 गाँवों के 70,000 से अधिक निवासियों को मिलेगा। उन्होंने कहा कि यह कम्पलेक्स प्रशासनिक कार्यों और ज़रुरी दस्तावेज़ों समेत ज़मीन की रजिस्ट्री, फ़र्द लेने आदि के अलावा सुविधा केंद्र और फ़र्द केंद्र जैसी ज़रूरी सेवाएं देगा। उन्होंने कहा कि अलग-अलग विभागों से सम्बन्धित अधिक से अधिक नागरिक सेवाएं एक ही छत के नीचे मुहैया करवाई जाएंगी, जिससे लोगों को ज़रुरी दस्तावेज़ समय पर और तुरंत जारी हो सकेंगे। 

जि़क्रयोग्य है कि राधास्वामी सत्संग ब्यास ने सब तहसील कार्यालय के लिए नया कम्पलेक्स बनाकर पंजाब सरकार को दिया है, जोकि पाँच एकड़ ज़मीन वाले विशाल क्षेत्र के साथ राज्य की आधुनिक इमारतों में से एक है। सब-तहसील कम्पलेक्स में 15,559 वर्ग फुट के निर्मित क्षेत्र, 10492 वर्ग फुट के खुले शैड, 22519 वर्ग फुट क्षेत्र में पार्किंग के अलावा 128156 वर्ग फुट में हरे भरे पार्क हैं।  पूरी तरह सजाए गए इस कम्पलेक्स में उप तहसीलदार के कार्यालय और अदालती कमरे सहित कुल 34 कमरे, समूचे स्टाफ के लिए कमरे और एक कॉन्फ्रें रूम है जबकि डिप्टी कमिश्नर अमृतसर के कैंप कार्यालय के लिए भी विशेष प्रबंध किया गया है। इमारत का डिज़ाइन, लेआउट और आर्किटेक्चर भविष्य में बनने वाली ऐसी इमारतों के लिए मॉडल के तौर पर इस्तेमाल किया जा सकता है।

पत्रकारों के सवाल का जवाब देते हुए मुख्यमंत्री चन्नी ने राधास्वामी सत्संग ब्यास द्वारा 5 करोड़ रुपए की लागत से सब-तहसील बनाने के लिए धन्यवाद किया। एक सवाल का जवाब देते हुए श्री चन्नी ने कहा कि डीजीपी की नियुक्ति का पैनल पहले ही भेजा जा चुका है और उसके अनुसार ही नियुक्ति की जायेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि नशे के मुद्दे पर पंजाब सरकार इस बीमारी को जड़ से खत्म करने के लिए हर संभव प्रयास कर रही है और बड़ी मछलियों को पकडऩे के लिए कानून अपना काम कर रहा है।

इस अवसर पर विधायक संतोख सिंह भलाईपुर, तरसेम सिंह डीसी और बलविन्दर सिंह लाडी, चेयरमैन पनग्रेन सुखजिन्दर राज सिंह लाली मजीठिया, अमृतसर के डिप्टी कमिश्नर गुरप्रीत सिंह खैहरा और एसएसपी राकेश कौशल भी उपस्थित थे।