सहकारी बैंक की 820 शाखाओं को और सुचारू ढंग से चलाने के लिए 856 पदों पर नई भर्ती जल्द मुकम्मल होगी-सुखजिन्दर सिंह रंधावा

उप मुख्यमंत्री ने सहकारिता लहर को और मज़बूत करने के लिए सहकारी संस्थाओं को समय के साथ चलाने की राज्य सरकार की प्रतिबद्धता दोहराई

चंडीगढ़, 14 अक्टूबर: -उप मुख्यमंत्री स. सुखजिन्दर सिंह रंधावा द्वारा पंजाब राज्य सहकारी बैंक चण्डीगढ़ और पंजाब के जि़ला केंद्रीय सहकारी बैंकों में सहायक मैनेजर से मैनेजर और मैनेजर से सीनियर मैनेजर की कुल 214 तरक्कियाँ की गईं हैं। इसके साथ ही सहकारी बैंकों में 856 पदों पर नई भर्ती करने का फ़ैसला किया गया है।

उप मुख्यमंत्री स. रंधावा जिनके पास सहकारिता विभाग भी है, ने जानकारी देते हुए बताया कि सहकारिता लहर को और मज़बूत करने के लिए सहकारी संस्थाओं का मज़बूतीकरण किया जा रहा है। इसी के अंतर्गत सहकारी बैंकों को कमर्शियल बैंकों के मुकाबले का बनाने के लक्ष्य से इन बैंकों में काम करने वाले कर्मचारियों की पदोन्नत करने की लम्बे समय से लम्बित पड़ीं माँगों को ध्यान में रखते हुए 214 तरक्कियाँ की गई हैं। इनमें 159 सहायक मैनेजरों को बतौर मैनेजर और 55 मैनेजरों को बतौर सीनियर मैनेजर पदोन्नत किया गया है।

सहकारी बैंकों में की जा रही नई पदों की भर्ती संबंधी जानकारी देते हुए स. रंधावा ने आगे बताया कि राज्य में सहकारी बैंक की 820 शाखाओं को और सुचारू ढंग से चलाने और ग्राहकों को समय पर और बढिय़ा सेवाएं देने के लिए विभिन्न काडरों में कुल 856 पदों पर नई भर्ती की शुरू की गई प्रक्रिया को जल्द ही मुकम्मल किया जाएगा।

उप मुख्यमंत्री ने कहा कि सहकारिता विभाग सीधे तौर पर राज्य के आम लोगों के साथ जुड़ा हुआ है। सहकारिता क्षेत्र कृषि और ग्रामीण क्षेत्र की रीढ़ की हड्डी है, जिनका आर्थिक स्तर ऊँचा उठाने के लिए सहकारी संस्थाओं को मज़बूत करने के लिए निरंतर प्रयास किए जा रहे हैं। स. रंधावा ने कहा कि सहकारी संस्थाओं को समय के साथ चलाने के लिए राज्य सरकार पूरी तरह प्रतिबद्ध है।