चण्डीगढ़, 29 सितम्बर:-पंजाब के मुख्यमंत्री स. चरणजीत सिंह चन्नी ने स्थानीय सरकार विभाग को कहा कि वह राज्य भर में अनियोजित और बेतरतीब निर्माणों को रोकने और राज्य के निवासियों को बुनियादी सुविधाएं मुहैया करवाने के लिए हर संभव यत्न करें।

स्थानीय सरकार विभाग के कामकाज की समीक्षा करते हुए स. चन्नी ने स्थानीय सरकार विभाग के प्रमुख सचिव श्री ए.के. सिन्हा को कहा कि वह नगर परिषदों को विस्तृत दिशा-निर्देश जारी करें, जिससे शहरी क्षेत्रों में सम्बन्धित अथॉरिटी द्वारा प्रमाणित भवन योजनाओं के अनुसार ही मकानों के निर्माण की इजाज़त दी जाए। उन्होंने स्पष्ट तौर पर यह भी कहा कि विभाग में विभिन्न स्तरों पर फैले भ्रष्टाचार की तुरंत जाँच होनी चाहिए, क्योंकि आम लोगों द्वारा इमारतों की योजनाओं की मंज़ूरी, पानी और सीवरेज कनेक्शनों की मंज़ूरी जैसे कार्यों को करवाने के लिए परेशानी होने की कई शिकायतें मिली हैं। 

उन्होंने प्रमुख सचिव सरकार को यह भी हिदायत की कि वह लोगों को पीने योग्य पानी की सप्लाई, स्ट्रीट लाईट, सीवरेज, सडक़ें और पार्कों आदि जैसी बेहतरीन नागरिक सुविधाएं दी जाना सुनिश्चित बनाएं। उन्होंने आगे कहा कि कालोनियों में 35 फुट की सडक़ें हों, जिससे लोगों को बिना किसी परेशानी के सडक़ तक संपर्क हासिल हो सके। उन्होंने कहा कि 20 फुट की तंग सडक़ों वाली कालोनाईजऱों की योजनाओं को मंज़ूर नहीं किया जाना चाहिए। स. चन्नी ने स्थानीय सरकार के प्रमुख सचिव को आम लोगों की शिकायतों को पहल के आधार पर निपटाने के लिए प्रभावशाली विधि स्थापित करने के लिए भी कहा। उन्होंने राज्य के समग्र शहरी विकास को सुनिश्चित बनाने के लिए स्थानीय सरकार के डायरैक्टर को नगर परिषदों के ईओज़ की नियमित बैठकें करने के निर्देश देने के लिए भी कहा।