देवदार के पौधा रोपित कर दिया अधिक से अधिक पौधे लगाने का संदेश

शिमला 08 अगस्त : शहरी विकास, आवास, नगर नियोजन, विधि, संसदीय कार्य एवं सहकारिता मंत्री सुरेश भारद्वाज ने आज वन विभाग एवं सेवानिवृत्त कर्मचारी संगठन के संयुक्त तत्वाधान में समरहिल के नजदीक चडविक-फॉल क्षेत्र में आयोजित पौधरोपण कार्यक्रम में मुख्य अतिथि के रुप में शिरकत कर देवदार का पौधा रोपित किया । पौध रोपण कार्यक्रम की अध्यक्षता कैलाश फेडरेशन के अध्यक्ष रवि मेहता ने की । उन्होंने तथा विभिन्न संस्थाओं के प्रतिनिधियों व स्थानीय लोगों ने 100 से अधिक पौधे रोपित किए ।

इस अवसर पर सुरेश भारद्वाज ने चडविक फॉल में वन महोत्सव कार्यक्रम आयोजित करने के लिए सेवानिवृत्त कर्मचारी संगठन के सदस्यों, पंचायती राज संस्थाओं के प्रतिनिधियों, आर्ट ऑफ लिविंग के प्रतिनिधियों, भगवत एनजीओ तथा महिला एवं युवक मंडलों की सामूहिक पहल का स्वागत करते हुए कहा कि अंग्रेजों के समय से लेकर चडविक-फॉल पर्यटन स्थल के रूप में विश्व के मानचित्र पर स्थापित है इसलिए इस क्षेत्र में पौधरोपण करना इसके महत्व को और अधिक बढ़ा देता है क्योंकि इस पर्यटन स्थल में बहुत से पर्यटक आते हैं और यदि यह क्षेत्र हरा भरा व आकर्षक रहेगा तो पर्यटकों की आमद बढ़ेगी जिससे यहां के स्थानीय लोगों को रोजगार के अवसर भी प्राप्त होंगे।

उन्होंने कहा कि इस वित्त वर्ष वन विभाग द्वारा प्रदेश की 14 हजार हेक्टेयर भूमि पर एक लाख 40 हजार पौधे लगाने का लक्ष्य निर्धारित किया गया है । उन्होंने कहा कि दूषित पर्यावरण पूरे विश्व के लिए एक समस्या बनी हुई है इसलिए पौधरोपण करके ही इस समस्या को खत्म किया जा सकता है । उन्होंने कहा कि शिमला तथा आसपास के क्षेत्र में देवदार के पेड़ काफी पुराने हो गये है जिनके स्थान पर नए पौधे रोपित कर शिमला के सौंदर्य को बरकरार रखने के लिए इस प्रकार के कार्यक्रम बहुत महत्वपूर्ण है ।
उन्होंने कहा कि कोरोना काल के दौरान ऑक्सीजन की कमी जैसे हालातों से निपटने के लिए भी हरित आवरण में वृद्धि करना आवश्यक है ताकि कृत्रिम ऑक्सीजन की आवश्यकता ना रहे ।
उन्होंने लोगों से आह्वान किया कि वे अपने-अपने क्षेत्रों में खाली जगह पर पेड़ पौधे रोपित करने के लिए अभियान चलाएं ताकि हिमाचल का हर क्षेत्र हरा भरा हो सके ताकि वैश्विक स्तर पर हो रहे ग्लोबल वार्मिंग के प्रभाव को भी कम किया जा सके ।

सुरेश भारद्वाज ने कहा कि महिला मण्डल सामाजिक दायित्व के अतिरिक्त वन महोत्सव में बढ़चढ़ बढ़-चढ़कर भाग ले रही हैं । उन्होंने बताया कि प्रदेश सरकार द्वारा महिलाओं के कल्याण के लिए अनेकों योजनाएं चलाई गई है ताकि उनका स्थान सुनिश्चित किया जा सके ।
उन्होंने कहा कि सेवानिवृत्त कर्मचारी संगठन भी इस क्षेत्र में सही भावना से कार्य कर रहा है और संगठन ने जो मांग पत्र उन्हें दिया है उसमें अंकित सभी मांगों को पूर्ण करने का प्रयास किया जाएगा ।
क्षेत्र के विकास की चर्चा करते हुए उन्होंने कहा कि इस क्षेत्र की चारों पंचायतों के मध्य निर्मित अलग-अलग संपर्क सड़कों की मुरम्मत के साथ साथ इन सड़कों को आपस में जोड़ने के प्रयास किए जाएंगे ताकि लोगों को कम समय में एक स्थान से दूसरे स्थान तक जाने में मदद मिल सके । उन्होंने सनहोग स्कूल के आसपास उप स्वास्थ्य केंद्र खोलने की मांग को मुख्यमंत्री के समक्ष रखने का आश्वासन भी दिया ।
इस अवसर पर उन्होंने 4 महिला मंडलों को 25- 25 हजार देने तथा 4 महिला मंडल भवनों को 3-3 लाख प्रति भवन देने, राजकीय उच्च पाठशाला सनहोग की चार दिवारी निर्माण के लिए 10 लाख रुपए देने तथा स्कूल के दो कमरे निर्माण का आश्वासन व कडोग गांव को रास्ते के निर्माण के लिए एक लाख रूपए देने की घोषणा भी की।
कैलाश फेडरेशन के अध्यक्ष एवं जिला भाजपा अध्यक्ष रवि मेहता ने कहा कि वन संपदा को बचाने के साथ-साथ नए समाज को शुद्ध जलवायु मिले इसके लिए पौधरोपण करना आवश्यक है । उन्होंने कहा कि सुरेश भारद्वाज के प्रयासों से खंड विकास कार्यालय टूटू का शुभारंभ संभव हो पाया है इसके अतिरिक्त शिमला ग्रामीण में 23 सड़को की एफसीए क्लियरेंस वन विभाग से मिली है । उन्होंने कहा कि क्षेत्र का विकास सर्वोपरि है इसके लिए प्रयास जारी रहेंगे।
इससे पहले सेवानिवृत्त कर्मचारी संगठन के उपाध्यक्ष रूप सिंह ठाकुर ने मुख्य अतिथि अतिथि का स्वागत करते हुए क्षेत्र की मांगों को उठाया तथा संगठन के महासचिव भगवंत किशोर के सहयोग उठाई गई मांगो का मांग पत्र मुख्य अतिथि को सौंपा।
पौधरोपण कार्यक्रम में महामंत्री प्रदेश किसान मोर्चा संजीव देष्टा, जिला अध्यक्ष किसान मोर्चा संजीव चौहान, मंडल अध्यक्ष शिमला भाजपा राजेश शारदा, महामंत्री मंडल शिमला सुशील चौहान, प्रदेश कार्यालय मंत्री किसान मोर्चा व एपीएमसी निदेशक महेंद्र शर्मा, अध्यक्ष खंड विकास समिति टूटू अनुराधा शर्मा, पंचायत समिति सदस्य निधि ठाकुर, प्रधान ग्राम पंचायत नेरी मंजूषा नरावल, प्रधान ग्राम पंचायत चायली चंद्रकांता, वन मंडलाधिकारी सुशील राणा, अधिशासी अभियंता लोक निर्माण विभाग सहित जल शक्ति विभाग व विद्युत विभाग के अधिकारी, सेवानिवृत्त कर्मचारी संगठन के अध्यक्ष चमन ठाकुर उपाध्यक्ष रूप सिंह ठाकुर, महासचिव भगवंत किशोर नरवाल व अन्य सदस्य, आर्ट ऑफ लिविंग से स्वामी प्रवीण तथा उनके सहयोगी, आसपास की पंचायतों से आए पंचायत प्रतिनिधि व स्थानीय लोग उपस्थित रहे ।