वातावरण और जलवायु परिवर्तन विभाग द्वारा मिशन तंदुरुस्त पंजाब के अंतर्गत करवाई गई रैली

चंडीगढ़, 16 अगस्त:-वातावरण और स्वास्थ्य सम्बन्धी मुद्दों के बारे में जागरूकता पैदा करने के अलावा हमारे संविधान में दर्ज वातावरण संरक्षण के संदेश को फैलाने और अपने आस-पास को साफ़-सुथरा रखने के लिए लोगों की भागीदारी को सुनिश्चित बनाने के उद्देश्य से वातावरण और जलवायु परिवर्तन विभाग द्वारा स्वतंत्रता दिवस के अवसर पर मिशन तंदुरुस्त पंजाब के अंतर्गत एक साइकिल रैली का आयोजन किया गया।

यह समागम फोकलोर फ्रैटरनिटी फैडरेशन पंजाब के साथ जुड़े जुगनी कल्चरल एंड यूथ वैलफेयर क्लब, एस.ए.एस. नगर के सहयोग के साथ करवाया गया। इस रैली में ट्राईसिटी के 150 से अधिक वातावरण और स्वास्थ्य प्रेमियों ने भाग लिया।

रैली को हरी झंडी दिखाते हुए और इसमें हिस्सा लेते हुए मुख्यमंत्री के उप प्रमुख सचिव गुरिन्दर सिंह सोढी ने मिशन की गतिविधियों को दी जा रही महत्ता के बारे में प्रकाश डाला, जिससे पंजाब का वातावरण सेहतमंद बन सके। उन्होंने पंजाब को देश का सबसे सेहतमंद राज्य बनाने के लिए मुख्यमंत्री पंजाब के उद्देश्य के बारे में भी प्रकाश डाला। 

साइकिल रैली पंजाब इंजीनियरिंग कॉलेज चण्डीगढ़ से आरंभ हुई और लगभग 25 किलोमीटर की दूरी तय करने के बाद चप्पड़चिड़ी, एसएएस नगर के फतेह बुर्ज में जाकर समाप्त हुई। साइकिल सवार अपने साइकिलों पर भारतीय झंडे लगाकर चले। प्रतिभागियों ने आयोजकें द्वारा मुहैया करवाई गई टी-शर्टें पहनीं जिस पर मिशन तंदुरुस्त पंजाब का लोगो और मिशन तंदुरुस्त पंजाब के अधीन दस उप-मिशनों को अलग-अलग रंगों में छापा गया था।

इस अवसर पर जुगनी कल्चरल एंड यूथ वैलफेयर क्लब, एसएएस नगर द्वारा एक सांस्कृतिक प्रोग्राम भी आयोजित किया गया, जिसके दौरान प्रदूषण घटाने और हरियाली संबंधी नाटक और स्किट के अलावा पंजाबी लोक गीत, भांगड़ा और गतका पेश किए गए। रैली के अंत में वृक्ष लगाने की गतिविधि भी की गई और वन विभाग द्वारा सभी भागीदारों को देसी वृक्षों की किस्मों के पौधे भी मुहैया करवाए गए।

इस अवसर पर वातावरण और जलवायु के डायरैक्टर चांद और मुख्य कार्यकारी अधिकारी, मिशन तंदुरुस्त पंजाब सौरभ गुप्ता ने फतेह बुर्ज कॉम्पलैक्स, चप्पड़-चिड़ी में भागीदारों को संबोधित करते हुए कहा कि नए रूप में बनाए गए मिशन तंदुरुस्त पंजाब की शुरूआत मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने 5 जून, 2021 को विश्व वातावरण दिवस के अवसर पर की थी। उन्होंने आगे बताया कि नए मिशन की गतिविधियों सम्बन्धी विभागों के अधीन दस उप-मिशनों द्वारा की जा रही हैं। उन्होंने मिशन तंदुरुस्त पंजाब की अलग-अलग विशेषताएं भी साझा की और लोगों को एक मोबाइल ऐप तन्दुरुस्त पंजाब डाउनलोड करने के लिए प्रेरित किया।

इस अवसर पर प्रमुख वैज्ञानिक अफ़सर-कम-नोडल अफ़सर, मिशन तंदुरुस्त पंजाब गुरहरमिन्दर सिंह ने कहा कि अपने लोगों के सहयोग के बिना अकेली सरकार कभी भी साफ़ और सेहतमंद वातावरण नहीं सृजन कर सकती। उन्होंने इस बात पर भी ज़ोर दिया कि वातावरण और वन संरक्षण ना सिफऱ् राज्य बल्कि हरेक व्यक्ति का कार्य हैे।

जुगनी कल्चरल एंड यूथ वैलफेयर क्लब के प्रधान दविन्दर सिंह ने वातावरण और जलवायु परिवर्तन विभाग और मिशन तंदुरुस्त पंजाब के लिए सोसायटी के इस समागम के आयोजन में सहयोग देने के लिए धन्यवाद किया। प्रतिभागियों ने वातावरण संरक्षण और प्रदूषण पर काबू पाने की गतिविधियों में योगदान देने का प्रण लिया। समागम की समाप्ति आसमान में तीन रंगों के गुब्बारे छोड़ कर की गई।