दीनानगर में राज्य स्तरीय मेला ‘तीआं तीज दीआं’ मनाया गया

चंडीगढ़/गुरदासपुर, 13 अगस्त:-सामाजिक सुरक्षा, महिला एवं बाल विकास मंत्री पंजाब अरुणा चौधरी ने कहा है कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह के नेतृत्व अधीन महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए विशेष प्रयास किये गए हैं और महिलाओं को समाज में आगे बढऩे के और ज्यादा मौके मुहैया करवाए गए हैं। वह आज दीनानगर में मनाए गए राज्य स्तरीय मेला ‘तीआं तीज दीआं’ में मुख्य मेहमान के तौर पर पहुँचे थे।

इस मौके पर कैबिनेट मंत्री श्रीमती चौधरी ने कहा कि तीज का त्योहार खुशियों वाला त्योहार है और यह दिन महिलाओं की जि़ंदगी में बहुत महत्व रखता है। उन्होंने आगे कहा कि कैप्टन अमरिन्दर सिंह के नेतृत्व अधीन पंजाब सरकार की तरफ से महिलाओं के सशक्तिकरण के लिए ठोस प्रयास किये गए हैं और इससे पहले बेटियों की लोहड़ी भी मनायी गई थी और मुख्यमंत्री पंजाब के हस्ताक्षरों वाले सर्टिफिकेट नवजात बेटियों को दिए गए थे। उन्होंने आगे कहा कि राज्य सरकार ने सरकारी नौकरियों में महिलाओं के लिए 33 फीसदी आरक्षण, स्थानीय और पंचायती मतदान में 50 फीसद आरक्षण, महिलाओं के लिए मुफ़्त बस सुविधा, माता तृप्ता महिला योजना के अंतर्गत महिलाओं को मुफ़्त सैनेटरी पैड, प्रधानमंत्री मातरू वन्दना योजना के अंतर्गत गर्भवती महिलाओं को वित्तीय मदद, बुढ़ापा, विधवा पैंशन दोगुनी की गई और आश्रित वित्तीय सहायता में वृद्धि की गयी है। 

सामाजिक सुरक्षा, महिला एवं बाल विकास मंत्री ने बताया कि 1 जुलाई से 750 रुपए से बढ़ा कर 1500 रुपए की गई सामाजिक सुरक्षा पैंशन की अदायगी अगस्त महीने से करने के लिए वितरण प्रक्रिया शुरू कर दी गई है। उन्होंने बताया कि राज्य के योग्य पाये गए 26 लाख 21 हज़ार 201 लाभार्थियों को पैनशनों का वितरण करने के लिए राज्य सरकार ने इस वित्तीय वर्ष के दौरान 4000 करोड़ रुपए का बजट आरक्षित रखा है। उन्होंने कहा कि मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह द्वारा सामाजिक सुरक्षा मासिक पैंशन 750 रुपए से बढ़ा कर 1500 रुपए करने की मंज़ूरी के बाद सामाजिक सुरक्षा, महिला एवं बाल विकास विभाग द्वारा इस सम्बन्धी नोटिफिकेशन जारी करते हुये 1 जुलाई से यह वृद्धि लागू कर दी गयी थी, जिसकी अदायगी सम्बन्धी प्रक्रिया अगस्त महीने में शुरू कर दी गई है।

जि़क्रयोग्य है कि मासिक पैंशन 750 रुपए से बढ़ा कर 1500 रुपए (दोगुनी) करने के मद्देनजऱ 2021-22 के दौरान 4,000 करोड़ रुपए का बजट आवंटित किया गया है, जो साल 2020-21 के 2,320 करोड़ रुपए के बजट खर्चों के मुकाबले 72 प्रतिशत अधिक है। उन्होंने बताया कि राज्य के सभी जिलों के 17,64,909 बुज़ुर्गों, 4,90,539 विधवाओं और बेसहारा महिलाओं, 2,09,110 दिव्यांग व्यक्तियों और 1,56,643 आश्रित बच्चों को दोगुनी पैंशन का लाभ मिलेगा।

इस मौके पर डायरैक्टर सामाजिक सुरक्षा, महिला एवं बाल विकास विभाग विपुल उज्जवल ने कहा कि कैबिनेट मंत्री श्रीमती अरुणा चौधरी के नेतृत्व अधीन विभाग द्वारा उल्लेखनीय प्रयास किये गए हैं, जिससे महिलाओं के सम्मान में विस्तार हुआ है। उन्होंने बताया कि आज दीनानगर में करवाए गए ‘राज्य स्तरीय मेला-तीआं तीज दीआं’ के अंतर्गत राज्य सरकार द्वारा प्रदान की जा रही स्कीमों सम्बन्धी महिलाओं को जागरूक करने के मंतव्य से क्रमवार समागम करवाए जाएंगे, जिसकी आज दीनानगर से शुरुआत की गई है।

इससे पहले कैबिनेट मंत्री श्रीमती अरुणा चौधरी का समागम में पहुँचने पर हार्दिक स्वागत किया गया और उन्होंने विभिन्न स्टालों में जाकर घरेलू खाने का आनंद भी लिया। समागम के दौरान मुख्य मेहमान समेत प्रमुख शख्.िसयतों का सम्मान किया गया और समागम की समाप्ति गिद्दे के साथ हुई, जिसमें सभी ने हिस्सा लिया।

इस मौके पर सीनियर कांग्रेसी नेता अशोक चौधरी, ज्वाइंट डायरैक्टर गुरजिन्दर सिंह मौड़, श्रीमती सरबजीत कौर पाहड़ा पत्नी हलका विधायक गुरदासपुर, श्रीमती शाहला कादरी पत्नी डिप्टी कमिशनर गुरदासपुर, डा. हरनीत कौर भाटिया पत्नी एस.एस.पी गुरदासपुर, श्रीमती इनायत एस.डी.एम. दीनानगर, अमृतबीर कौर वालिया वाइस चेयरपरसन महिला आयोग, श्रीमती सतीन्द्र कौर पत्नी प्रधान नगर कौंसिल गुरदासपुर, अभिनव चौधरी, जि़ला प्रोग्राम अधिकारी अमरजीत सिंह भुल्लर, जि़ला सामाजिक सुरक्षा अधिकारी राजिन्दर सिंह, जि़ला प्रोग्राम अधिकारी श्री अमृतसर मनजिन्दर सिंह उपस्थित थे।