डी.जी.पी. दिनकर गुप्ता ने सभी पुरस्कार विजेताओं को दी बधाई; पंजाब पुलिस के बहादुर जवानों की सेवाओं को मान्यता देने के लिए गृह मंत्रालय का किया धन्यवाद

चंडीगढ़, 14 अगस्त:-पंजाब पुलिस की शानदार सेवाओं को मान्यता देते हुए भारत सरकार के गृह मंत्रालय ने 75वें स्वतंत्रता दिवस की पूर्व संध्या के अवसर पर पंजाब पुलिस के अधिकारियों/कर्मचारियों के नामों का ऐलान किया, जिनको बहादुरी के लिए पुलिस मैडल (पीएमजी), विशिष्ट सेवा के लिए राष्ट्रपति पुलिस मैडल (पीपीएमडीएस) और बेमिसाल सेवा के लिए पुलिस मैडल (पीएमएमएस) से सम्मानित किया जाएगा।

स्पैशल टास्क फोर्स (एसटीएफ), बॉर्डर रेंज, अमृतसर के एएसआई गुरसेवक सिंह को बहादुरी के लिए पुलिस मैडल से सम्मानित किया जाएगा, जबकि एडीजीपी आधुनिकीकरण राम सिंह और एआईजी-कम-डी.जी.पी. पंजाब के स्टाफ अधिकारी जसदीप सिंह को विशिष्ट सेवा के लिए राष्ट्रपति पुलिस मैडल से सम्मानित किया जाएगा। 

इसी तरह पाँच पीपीएस अधिकारी जिनमें एसएसपी कपूरथला, हरकमलप्रीत सिंह खक्ख, एडीसीपी-2 लुधियाना जसकिरनजीत सिंह तेजा, डीएसपी पीबीआई राज कुमार, डीएसपी सीआईडी यूनिट बठिंडा परमिन्दर सिंह और डीएसपी डिटैक्टिव अमृतसर ग्रामीण गुरिन्दरपाल सिंह के नाम उन 13 अधिकारियों/कर्मचारियों में शामिल हैं जिनको बेमिसाल सेवाओं के लिए पुलिस मैडल के लिए चुना गया है। बाकी अधिकारियों में इंस्पेक्टर कुलवीर सिंह, इंस्पेक्टर अशोक कुमार, इंस्पेक्टर पूरन सिंह, एसआई नत्था सिंह, एसआई निरंजन दास, एसआई हरजीत सिंह, एएसआई ईश्वर तिवाड़ी और एएसआई अशोक कुमार शामिल हैं।

डायरैक्टर जनरल ऑफ पुलिस (डीजीपी), पंजाब दिनकर गुप्ता ने पुरस्कार विजेताओं को बधाई देते हुए इन अधिकारियों की सेवा को मान्यता देने और समूची पंजाब पुलिस फोर्स के मनोबल को बढ़ाने के लिए भारत सरकार के गृह मंत्रालय का धन्यवाद किया। उन्होंने कहा कि ऐसी मान्यता पुलिस फोर्स को और अधिक समर्पण और निष्ठा से काम करन के लिए प्रोत्साहित करने में महत्वपूर्ण भूमिका निभाती है, जोकि अलग-अलग सुरक्षा चुनौतियों वाले एक सरहदी राज्य के लिए बहुत ज़रूरी हैं।