चण्डीगढ़, 5 अगस्तः -पंजाब ने सतत शहरों और भाईचारों के लिए सतत विकास लक्ष्य (एस.डी.जीज़) इंडिया इंडैक्स 2020-21 में देशभर के राज्यों में पहला रैंक हासिल किया है। इसके साथ ही पंजाब 68 अंकों के साथ फ्रंट रनर सूची में शामिल हुआ।
यह जानकारी आज यहाँ सतत विकास लक्ष्य (एस.डी.जीज़) इंडिया इंडैक्स -2020 -21 अनुसार राज्य के अलग-अलग विभागों की प्रगति का जायज़ा लेने के उपरांत मुख्य सचिव श्रीमती विनी महाजन ने दी।
सम्बन्धित विभागों के प्रशासकीय सचिवों के साथ मीटिंग की अध्यक्षीता करते हुए मुख्य सचिव ने कहा कि इसमें 22 सूचक थे जहाँ राज्य की कारगुज़ारी /सूचकांक स्कोर 100 रहा। इनमें मुख्य सूचक जैसे कि  लक्ष्य के अनुसार बनाए गए व्यक्तिगत घरेलू पाखानों की प्रतिशतता (एस.बी.एम.(जी)), सेकेंडरी स्तर पर विद्यार्थी-अध्यापक अनुपात (9वीं-10वीं कक्षा), इलेक्ट्रीफाइड घर की प्रतीशतता, खुले में शोच से मुक्त होने की पुष्टि किये गए जिलों की प्रतिशतता (एस.बी.एम.(जी)) और लक्ष्य के अनुसार बनाए गए व्यक्तिगत घरेलू पाखानों की प्रतिशतता आदि शामिल है।
मीटिंग दौरान कुछ प्रशासकीय सचिवों ने मुख्य सचिव को बताया कि सूचकों के लिए लिए गए आंकड़े नवीनतम रूझानों पर आधारित नहीं थे। उन्होंने आगे बताया कि मौजूदा हालात के अनुसार एस.डी.जी. इंडिया इंडैक्स 2020-21 के लिए इस्तेमाल किए जाने वाले आंकड़ों में महत्वपूर्ण सुधार हुआ होगा। श्रीमती महाजन ने सभी प्रशासकीय सचिवों को आंकड़ों में संशोधन के साथ जुड़े मुद्दों को उठाने के निर्देश दिए।
इस मीटिंग में कृषि, ग्रामीण विकास और पंचायत, वन और वन्य जीव, गृह मामले, श्रम, राजस्व, नवीन और नवीकरणीय ऊर्जा स्रोत, उच्च शिक्षा, उद्योग और वाणिज्य, विज्ञान प्रौद्यौगिकी और वातावरण, सामाजिक सुरक्षा, ट्रांसपोर्ट, जल स्रोत, स्वास्थ्य और परिवार कल्याण, जल स्पलाई और सेनीटेशन, स्कूल शिक्षा, बिजली और स्थानीय निकाय के प्रशासकीय सचिव मौजूद थे।