संगरूर, 30 मईः-पंजाब स्कूल शिक्षा मंत्री श्री विजय इंदर सिंगला ने रविवार को संगरूर में कोविड एंबुलेंस सेवा और घर-घर कोविड के विरुद्ध जागरूकता मुहिम की शुरूआत की। आज शुरू की गई एंबुलेंस सेवा के अंतर्गत दो आक्सीजन कन्संट्रेटरज वाले वाहन चलाए जाएंगे।

सिंगला ने संगरूर में प्रैस कान्फ्रेंस को संबोधन करते हुये कहा, ‘’वालंटियरों की एक समर्पित टीम, लोगों को ‘जिम्मेदार संगरूर’ मुहिम के अंतर्गत महामारी के बारे उनके भ्रम दूर करने के लिए जागरूक करेगी। हमारी टीम लोगों को सावधानियों के बारे जागरूक करने के साथ-साथ कोविड जरूरी वस्तुओं वाली ‘जिम्मेदार किटें’ बांटेगी।

पंजाब के शिक्षा मंत्री विजय इंदर सिंगला ने कहा, ‘एमरजैंसी या सख्त जरूरत की स्थिति में लोगों की सेवा और सहायता के लिए एंबुलेंस सेवा महत्वपूर्ण है। हेल्पलाइन नंबर, 88981 -00004 पर काल करके एंबुलेंस बुलाई जा सकेगी।’
उन्होंने टीका लगवाने की महत्ता पर भी जोर दिया और कहा कि सरकार और टीके खरीदने की संभावना की तरफ काम कर रही है जिससे हर घर को पूरी तरह सुरक्षित बनाया जा सके। विजय इंदर सिंगला ने कहा, ‘हमें कोविड के विरुद्ध अपनी लड़ाई में इकठ्ठा खड़े होने की जरूरत है।’
उन्होंने कहा कि कोविड वार रूम और एक हेल्पलाइन नंबर 24 घंटे पहले ही ‘जिम्मेदार संगरूर’ के अंतर्गत लोगों को सहायता प्रदान कर रहा है। श्री सिंगला ने बताया कि हेल्पलाइन नंबर पर बिस्तरे, आक्सीजन, वैक्सीन और दवा की उपलब्धता सम्बन्धी दो सौ से अधिक फोन आ चुके हैं और इनमें से 90 प्रतिशत का हल किया भी जा चुका है। डिजिटल क्षेत्र का इस्तेमाल करते हुये सवालों का तुरंत जवाब देने के लिए एक चैटबौट लोगों की सहायता के लिए 24 घंटे काम कर रहा है। उन्होंने कहा की ‘जिम्मेदार संगरूर’ मुहिम के अंतर्गत पहलकदमियां कोविड-19 के विरुद्ध लड़ाई लड़ने के लिए एक मजबूत तंत्र प्रदान कर रही हैं।
कोविड -19 को लेकर बहुत सी गलत धारणाएं जुड़ी हुई हैं, इसलिए, सार्वजनकि क्षेत्र में पैदा हो रहे अंदेशों और सवालों के समाधान और सही जानकारी के मद्देनजर श्री विजय इंदर सिंगला ने सोशल मीडिया प्लेटफार्मस पर ‘आस्क द कोविड एक्सपर्ट’ वीडियो सीरीज शुरू की है। इस सीरीज में श्री सिंगला और एक डाक्टर बातचीत करते हैं, जहाँ डाक्टर कोविड सम्बन्धी धारणाओं का खंडन करने के साथ-साथ वास्तविक तथ्यों को सामने लेकर आता है। इसके इलावा, कैनोपीज़ की स्थापना भी शुरू की गई है, इसको लोगों की आसान पहुँच के मद्देनजर बाजार में रखा जायेगा। इसका मुख्य मकसद लोगों को कोविड से सम्बन्धित सही जानकारी और सहायता प्रदान करना होगा।
शिक्षा और लोक निर्माण मंत्री के द्वारा जिम्मेदार संगरूर मुहिम की शुरूआत संगरूर के लोगों को कोविड से सम्बन्धित सहायता प्रदान करने के लिए की गई है।