करेले के पत्तों और जड़ों के इस्तेमाल से भी कई तरह की समस्याएं सुलझा सकते हैं. इस खबर में जानें कैसे करेले के छोटे, गुणकारी और अति महत्त्वपूर्ण फायदे आपके लिए कमाल कर सकते हैं.

कान में दर्द, खेलते समय लगी चोट या ऐसी ही अनेक छोटी-छोटी परेशानियों से चिड़चिड़ापन आता है. लेकिन क्या आपको पता है बाजार में 80 रुपए प्रति किलो के हिसाब से मिलने वाले करेले से आप इन सभी समस्याओं से छुटकारा पा सकते हैं. आप इसके पत्तों और जड़ों के इस्तेमाल से भी कई तरह की समस्याएं सुलझा सकते हैं. इस खबर में जानें कैसे करेले के छोटे, गुणकारी और अति महत्त्वपूर्ण फायदे आपके लिए कमाल कर सकते हैं.



घाव पर लाभकारी (Beneficial on wound)
चोट लगने या फोड़ा होने पर अक्सर व्यक्ति को कम लेकिन लम्बे समय तक परेशानी का सामना करना पड़ता है. ऐसे में करेले की जड़ को पीसकर फोड़े या चोट वाले स्थान पर लगाएं. करेले की जड़ न मिले तो आप इसके पत्ते भी ले सकते हैं. इन्हें पीसकर हल्का गर्म करें और घाव पर लगाकर पट्टी बांध लें. ऐसा करने से पस खत्म हो जाएगी और घाव के स्थान पर होने वाले दर्द से भी राहत मिलेगी.

पेट से जुड़ी समस्या (Stomach Problems)
करेला कड़वा जरूर होता है लेकिन आपके पेट से जुड़ी कई तरह की समस्याओं का समाधान दिला सकता है. आपको शायद ही पता होगा कि करेले की सब्जी के साथ ही इसका जूस भी फायदेमंद है. इतना ही नहीं करेले की पत्तियां और छिलका भी इस तरह की तमाम समस्याओं से समाधान दिला सकता है.

पथरी में सहायक (Helps in Stone)

पथरी की समस्या होने पर लोगों को ऑपरेशन से होकर गुजरना पड़ता है, जिसमें बहुत तकलीफ होती है. लेकिन करेले के रस का सेवन मात्र करने से इस समस्या से निदान पाया जा सकता है. इससे पथरी निकालने में मदद मिलेगी.

कान में दर्द (Pain in Ears)
करेले के रस के कई फायदे हैं, उन्हीं में से एक कान में दर्द की समस्या को दूर करना भी है. ताजा करेले का रस पिएं, साथ ही करेले का रस निकालकर 3-5 बूंदों को कान में भी डालें. ऐसा करने से जल्द ही आपको दर्द से राहत मिलेगी.