होशियारपुरः 26 जनवरी ट्रैक्टर हिंसा के आरोप में गिरफ्तार किए गए होशियारपुर के 2 नौजवानों को देर रात तिहाड़ जेल से रिहा कर दिया गया। इन दोनों नौजवानों की पहचान गुरदयाल सिंह और बलविन्दर सिंह के रूप में हुई है और ये दोनों होशियारपुर के गांव हुसैनपुर और बुढ्ढी से संबंधित हैं।

दिल्ली पुलिस द्वारा रिहा किए नौजवानों के लिए लेने बलविन्दर सिंह के भाई राजिन्दर सिंह राजा और जसकरन सिंह ने बताया कि बब्बू और गुरदयाल सिंह ने उनके साथ हुई मुलाकात दौरान जेल में पुलिस की तरफ से उनके साथ किए गए व्यवहार और अन्य की जानकारी दी। उन्होंने बताया कि 28 जनवरी को उन्हें तिहाड़ जेल में रखा हुआ था, जहां पहले 3 दिन उन्हें काफ़ी तंगी से गुजारने पड़े लेकिन उसके बाद सब ठीक हो गया और पुलिस का उनके साथ बर्ताव ठीक था।

रिहा होने के बाद बब्बू और गुरदयाल सिंह ने जहां उनकी ज़मानत करवाने में दिल्ली सिख गुरुद्वारा प्रबंधक कमेटी के प्रधान मनजिन्दर सिंह सिरसा और दूसरे सहयोगियों का धन्यवाद किया, वहीं उन्होंने कहा कि खेती कानूनों को वापिस करवाने के लिए चल रहे संघर्ष में वह किसी भी किसी तरह की बलि और योगदान देने से पीछे नहीं हटेंगे, बेशक उन्हें और संघर्ष करना पड़े यदि ज़रूरत पड़ी तो वह दिल्ली किसान आंदोलन में फिर से भाग लेंगे।