मंदिर के मुख्य पुजारी पंडित नारायण शास्त्री ने कहा कि मां चंद्रघंटा के मस्तक पर घंटे के आकार का अ‌र्द्धचंद्रमा सुशोभित है। उन्होंने बताया कि इनके दस हाथ हैं व सभी हाथों में शस्त्र लेकर पाप व असुरों का वध करती हैं। इस क्रम में श्री गीता मंदिर, अर्बन एस्टेट फेस-वन में दुर्गा मां स्तुति का पाठ किया गया। प्रबंधक कमेटी के प्रधान राजेश अग्रवाल की अध्यक्षता में आयोजित समारोह के दौरान महिलाओं ने कतारबद्ध बैठकर ज्योति जगाई व पाठ किया। श्री देवी तालाब मंदिर में सुबह से ही श्रद्धालुओं ने दुर्गा स्तुति का पाठ किया। इसी तरह श्री महालक्ष्मी मंदिर जेल रोड, श्री गीता मंदिर, माडल टाउन, श्री कृष्ण मुरारी मंदिर गोपाल नगर, गौरी शंकर मंदिर मोहल्ला इस्लामगंज आदि मंदिरों में श्रद्धालुओं ने नवरात्र की पूजा की।