जालंधर:- फोकल प्वाइंट में बन रहे नया 66केवी ग्रिड का निर्माण कार्य अभी पचास प्रतिशत ही पूरा हो पाया है। इंडस्ट्री को बिजली के नए कनेक्शन नहीं मिल रहे है। चालीस से अधिक नई इंडस्ट्री ने कनेक्शन के लिए अप्लाई किया हुआ है जिन्हें अभी पावरकाम की ओर से जारी नहीं किए गए है। तीन वर्ष पहले नए तीन ग्रिड बनाए जाने की योजना थी।

पहला ग्रिड गदईपुर , दूसरा ग्रिड इंडस्ट्री एरिया व तीसरा ग्रिड इंडस्ट्रियल एस्टेट में बनाया जाना था। ग्रिड निर्माण के लिए जगह नहीं मिलने की वजह से प्रोजेक्ट को रद्द करना पड़ा। इंडस्ट्री में बिजली की मांग बढ़ गई है। ग्रिड छोटे पड़ गए है। पावरकाम ओवरलोड ग्रिड से नए कनेक्शन जारी नहीं करना चाहता है। फिलहाल फोकल प्वाइंट, नूरपूर धोगड़ी में लगी नई इंडस्ट्री को नए कनेक्शन जारी नहीं हो रहे है। इंडस्ट्री से जुड़े लोग बताते है कि फोकल प्वाइंट में बनने वाले 66केवी ग्रिड का निर्माण कार्य देरी से हो रहा है। अभी पचास प्रतिशत काम ही पूरा हो पाया है। इस ग्रिड को किस ट्रांसमिशन लाइन से बिजली देनी है इसका अंतिम फैसला अभी करता है। सीआइआइ के जालंधर काउंसिल के वाइस चेयरमैन तुषार जैन, बलराम कपूर ने कहा कि इंडस्ट्री की मांग के मुताबिक नय ग्रिड का निर्माण जल्द किया जाना चाहिए। उन्होंने कहा कि इंडस्ट्री को नए कनेक्शन नहीं मिलेंगे तो नया कारोबार कैसे शुरु होगा। पावरकाम के नार्थ जोन के चीफ इंजीनियर जैनइंद्र दानिया ने कहा कि फोकल प्वाइंट में 66केवी नए ग्रिड का निर्माण हो रहा है। ग्रिड तैयार होते ही इंडस्ट्री को ने कनेक्शन जारी कर दिए जाएंगे। फिलहाल फोकल प्वाइंट के पहले ग्रिड ओवरलोड चल रहे है। इस ग्रिड पर लोड नहीं डाला जा सकता।